वृंदा फाउंडेशन ने लिया 2,000 परिवारों को गोद लेने का लक्ष्य

वृंदा फाउंडेशन ने लिया 2,000 परिवारों को गोद लेने का लक्ष्य

घर-घर जाकर कर रहे जरूरतमंद परिवारों का सर्वे..

जयपुर. कोरोना के इस दुर्गम दौर में यूं तो कई संगठन राजधानी में सेवा का काम कर रहे हैं। लेकिन शहर में एक संगठन ऐसा भी है जो लोगों के साथ पशु-पक्षियों का भी बराबर ध्यान रख पा रहा है। इनके लिए दोनों का धर्म बराबर है, ये कहना है वृंदा फाउंडेशन के अध्यक्ष जितेंद्र मीणा का। नि:स्वा​र्थ सेवा का पर्याय बन चुके वृंदा ​फाउंडेश ने अब करीब 2,000 जरूरतमंद परिवारों को गोद लेने का निर्णय लिया है। फाउंडेशन पिछले एक महीने से जिस तरह से लोगों की सेवा में लगा हुआ है वह वाकई में अनुकरणीय है।

www.ausamachar.com

आज वृंदा फाउंडेशन की ओर से प्रतिदिन सैकड़ों किलो सब्जी का नि:शुल्क वितरण किया जा रहा है। मीणा ने बताया कि इसके अलावा फाउंडेशन की ओर से सूखे राशन एवं नियमित भोजन वितरण का काम भी किया जाता है। उन्होंने बताया इसके लिए अभी तक सामाजिक कार्यकर्ता राकेश सिंह राजपूत एवं उनकी टीम द्वारा झालाना डूंगरी क्षेत्र में करीब 700 जरूरतमंद परिवारों को चिंन्हित किया गया है। इन सभी परिवारों को राशन एवं रोज ताजा सब्जी का वितरण किया जा रहा है।

www.ausamachar.com

मीणा ने बताया कि फाउंडेशन का लक्ष्य 2,000 घरों तक भोजन सामग्री पहुंचाने का है। इसमें सामाजिक कार्यकर्ता राकेश राजपूत एवं उनकी टीम निरंतर लगी हुई है। इसके अलावा नियमित गौवंश को चारा वितरण एवं ​पक्षियों के लिए दाना पानी का इंतजाम किया जा रहा है। साथ ही लोगों को कोरोना से बचाव कि प्रति जागरूक जगाने का काम भी फाउंडेशन के प्रत्येक कार्यकर्ता की ओर से जारी है। वहीं सरकार की ओर से दी जाने वाली सहायता राशि के बारे में भी बताया जाता है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *