उत्तराखंड ग्लेशियर आपदाः इसरो ने जारी की रैणी की पहली तस्वीर, अब तक 32 शव बरामद

उत्तराखंड ग्लेशियर आपदाः इसरो ने जारी की रैणी की पहली तस्वीर, अब तक 32 शव बरामद

Uttarakhand Galcier Burst.उत्तराखंड में आई जल प्रलय को आज चार दिन बीत गए, लेकिन सुरंग में फंसे लोगों को निकालने का काम अभी भी जारी है। ऐसे में आज इसरो की ओर से रैणी और तपोवन गांव की पहली तस्वीर जारी की है। बता दें कि आपदा में मरने वालों का आंकड़ा अब 32 तक जा पहुंचा है। वहीं करीब 174 से भी ज्यादा लोग लापता बताए जा रहे हैं।

घरों में आई दरारें :

इस आपदा के कारण चमोली में कई घरों में दरारें आ गई हैं। कुछ ऐसी ही खबरें आज विष्णुप्रयाग से भी मिलीं। ऋषिगंगा में आई जल प्रलय से 174 लोग अभी भी लापता हैं। 32 शव अब तक निकाले जा चुके हैं। इनमें से अभी 8 की शिनाख्त हो पाई है।

रैणी में 200 जवान तैनात :

रैणी गांव में आर्मी के करीब 200 जवान तैनात किए गए हैं। इसके अलावा जरूरतमंद लोगों को एयरलिफ्ट करने के लिए चीता हेलिकॉप्टर भी लगाए हुए हैं। आर्मी की इंजीनियरिंग टास्क फोर्स भी मौजूद है। जेसीबी मशीनों के जरिए लगातार जोशीमठ टनल के मलबे को हटाकर उसमें फंसे लोगों को निकालने का जारी है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *