दुकान खोलने का यूपी सरकार ने निकाला ये अजब तरीका, देशभर में हो रही तारीफ, पढ़ें..

दुकान खोलने का यूपी सरकार ने निकाला ये अजब तरीका, देशभर में हो रही तारीफ, पढ़ें..

– सोशल डिस्टेंसिंग में मिलेगी काफी हद तक मदद..

लॉकडाउन में बाजार को खोलने का सबसे अच्छा तरीका उत्तरप्रदेश की सरकार ने सुझाया है। सरकार की इस रोस्टर प्रणाली की अब तो सोशल मीडिया पर भी तारीफ देखने को मिल रही है। यूपी सरकार की ओर से लखनऊ में दुकानदारों के लिए बनाए गए इस चार्ट को देश के अन्य प्रदेशों को भी फॉलो करना चाहिए। इसमें सरकार ने दुकानों के कुल 22 प्रकार बनाए हैं। इसमें से 4 प्रकार की दुकान ऐसी हैं। ​जिन्हें रोजाना खोलने की अनुमति प्रदान की गई है। इसके लिए आप सरकार की ओर से जारी किया गया चार्ट खबर के नीचे देख सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए आप यूपी सरकार की आधिकारिक वेबसाइट भी देख सकते हैं।

इस तरह का रहेगा रोस्टर :

लॉ​कडाउन के तीसरे चरण में जनता को राहत देने के लिहाज से केंद्र सरकार ने जरूरी वस्तुओं से संबंधित दुकान आदि को खोलने की अनुमति प्रदान की है। जिसे यूपी की सरकार ने बड़े ही अनूठे अंदाज में लागू किया है। जिसकी आज देशभर में चर्चा हो रही है। लखनऊ में दुकानों को ​कुल 22 प्रकार में बांटा गया है।

इनमें से 8 तरह की दुकानों को सोमवार, बुधवार और शुक्रवार के दिन खोलने की अनुमति होगी। वहीं 10 तरह की दुकानों को मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को खोलने की अनुमति होगी। इसके अलावा शेष 4 तरह की दुकानों को सातों दिन खोलने की अनुमति होगी। इन सभी दुकानों को खोलने का समय सुबह 7 बजे से शाम साढ़े 5 बजे तक रहेगा। और यह व्यवस्था 17 मई तक प्रभावी रहेगी।

सरकार की ओर से बनाए गए इस रोस्टर में साफ लिखा है कि लखनऊ में किस दिन कौनसी दुकान खुलेगी। साथ ही सरकार की ओर से जारी किया गया चार्ट भी सूचना के प्रसार के लिहाज से सटीक बैठता है। इसमें किसी भी प्रकार की ऑफिसियल भाषा का उपयोग नहीं किया गया है। इसलिए हर कोई समझ जाएगा कि कौनसी दुकान कब खोलनी है। इसमें यह भी लिखा है कि रेडीमेड गारमेंट की दुकानें तो खुलेंगी मगर ट्रायल और वापसी की सुविधा नहीं होगी।

राजस्थान में भी लागू हो :

प्रदेश में कोरोना रोगियों की संख्या को देखते हुए यूपी सरकार की रोस्टर प्रणाली को यहां भी लागू करना चाहिए। ताकि एक साथ ज्यादा संख्या में लोग सड़कों पर न निकल पाएं। इससे सोशल डिस्टेंसिंग में काफी हद तक मदद मिल सकती है।

ये रहा चार्ट :

www.ausamachar.com
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *