आज तो ट्रेलर है, फिल्म देखेंगे तो गहलोत बोरी-बिस्तर बांध भाग लेंगे : पूनियां

आज तो ट्रेलर है, फिल्म देखेंगे तो गहलोत बोरी-बिस्तर बांध भाग लेंगे : पूनियां

जयपुर. भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने नागरिकता संशोधन विधेयक के समर्थन में आए हजारों विस्थापित, भाजपा कार्यकर्ता, जनप्रतिनिधियों एवं आमजन को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार की यह वर्षगांठ नहीं, बरसी है। उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक का अशोक गहलोत, उनकी सरकार और कांग्रेस विरोध कर रही है, क्योंकि मोदी जी एवं अमित शाह ने सरकार में आते ही अपने किए वादों को पूरा करना शुरू किया। चाहे ट्रिपल तलाक हो, धारा 370 हो, राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ करना हो इससे बौखला कर कांग्रेस नागरिकता संशोधन विधेयक के नाम पर देश में अशांति फैलाना चाहती है, किंतु इनके यह मंसूबे कभी पूरे नहीं होंगे।

कांग्रेस एड़ी से चोटी तक कितना ही विरोध कर ले, भारत की जनता ने इनको वैचारिक रूप से विदाई दे दी है। इस देश में आजादी के साथ सभी धर्मों के लोग चाहे हिंदू हो, मुस्लिम हो, सिख हो, ईसाई हो, बौद्ध हो, जैन हो इस सरजमी पर सुख और शांति के साथ रहते हैं। डाॅ. पूनियां ने कहा कि इस देश में मुसलमानों को रहने का पूरा अधिकार है। कांग्रेस उनमें भय फैलाकर उनसे हिंसा करवा रही है। इस देश के सभी राष्ट्रभक्त मुसलमान एपीजे अब्दुल कलाम और अशफाक उल्ला खां की तरह उन्हें इस देश में रहने का पूरा अधिकार है।

डाॅ. पूनियां ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि पाकिस्तान से आए हजारों विस्थापित दलित और आदिवासी बंधु भी यहां उपस्थित हैं, जिनके आंसू पौंछने का काम भाजपा की सरकार करती आई है। मैं हृदय से धन्यवाद देना चाहूंगा, विस्थापित बंधुओं की तरफ से हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह का, जिन्होंने उनकी पीड़ा को समझा और नागरिकता कानून की जटिलताओं को संशोधन द्वारा दूर कर उनके नागरिकता प्राप्त करने का रास्ता आसान किया। जब राजस्थान में भाजपा की सरकार थी उस समय यहां भी उनकी मदद हमारी सरकार ने ही की थी।

उन्होंने ने गहलोत सरकार को चेतावनी देते हुए कहा नागरिकता संशोधन कानून की प्रक्रिया जल्द से जल्द राजस्थान में प्रारंभ की जाए और विस्थापितों को नागरिकता जल्द से जल्द दी जाए, नहीं तो यहाँ उपस्थित जनता के सैलाब को देखकर लगता है, फिल्म का ट्रेलर ही इतना जबरदस्त है, तो फिल्म जब पूरी होगी अशोक गहलोत अपने बोरी-बिस्तर बांध कर भाग लेंगे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *