इस साल जनगणना में पूछे जाने हैं ये सवाल, भ्रमित न हों सटीक जानकारी दें..

इस साल जनगणना में पूछे जाने हैं ये सवाल, भ्रमित न हों सटीक जानकारी दें..

वैसे तो जनगणना हर 10 साल में होती ​​है। लेकिन इस बार की जनगणना कुछ खास होने वाली है। वो इसलिए की जनसंख्या के साथ इस बार कुछ ऐसे रोचक सवाल आपसे पूछे जाएंगे, जिन्हें बताते हुए लोग थोड़े कन्फ्यूज रहेंगे। हालांकि सवाल सरल होंगे मगर आपकी पर्सनल जानकारी से जुड़े होंगे।

इसमें जनगणना ​अधिकारी आपसे कोई 10-20 सवाल नहीं बल्कि पूरे 31 सवाल करेंगे जिनका आपको उसी समय सही जबाव देना होगा। जाहिर सी बात है कि आपके मन में सवालों को लेकर संशय उठ रहा होगा। तो चलिए हम आपको बता देते हैं कि हाल ही में केंद्र सरकार की ओर से एक नोटिफि​केशन जारी किया गया जिसमें 2021 में होने वाली जनगणना के चरणों की घोषणा की। वहीं इसके लिए सरकार की ओर से 8000 करोड़ रुपए से ज्यादा का बजट भी पास किया जा चुका है।

इसके साथ ही सरकार की ओर से सवालों की एक लिस्ट भी जारी की गई है जो कि इस प्रकार है :

  1. बिल्डिंग नंबर (म्यूनिसिपल या स्थानीय अथॉरिटी नंबर)
  2. जनगणना हाउस नंबर
  3. जनगणना मकान की छत, दीवार और सीलिंग में मुख्य रूप से इस्तेमाल
    हुआ मटीरियल
  4. जनगणना मकान का इस्तेमाल किस उद्देश्य से हो रहा है
  5. जनगणना मकान की स्थिति
  6. मकान का नंबर
  7. घर में रहने वाले लोगों की संख्या
  8. घर के मुखिया का नाम
  9. मुखिया का लिंग
  10. क्या घर के मुखिया अनुसूचित जाति/जनजाति या अन्य समुदाय से
    ताल्लुक रखते हैं
  11. मकान का ओनरशिप स्टेटस
  12. मकान में मौजूद कमरे
  13. घर में कितने शादीशुदा जोड़े रहते हैं
  14. पीने के पानी का मुख्य स्रोत
  15. घर में पानी के स्रोत की उपलब्धता
  16. बिजली का मुख्य स्रोत
  17. शौचालय है या नहीं
  18. किस प्रकार के शौचालय हैं
  19. ड्रेनेज सिस्टम
  20. स्नानघर है या नहीं
  21. रसोई घर है या नहीं, इसमें एलपीजी/पीएनजी कनेक्शन है या नहीं
  22. रसोई के लिए इस्तेमाल होने वाला ईंधन
  23. रेडियो/ट्रांजिस्टर
  24. टेलीविजन
  25. इंटरनेट की सुविधा है या नहीं
  26. लैपटॉप, कंप्यूटर है या नहीं
  27. टेलीफोन, मोबाइल फोन, स्मार्टफोन
  28. साइकल, स्कूटर, मोटरसाइकल, मोपेड
  29. कार/जीप/वैन
  30. घर में किस अनाज का मुख्य रूप से उपभोग होता है
  31. मोबाइल नंबर (जनगणना संबंधित संपर्क करने के लिए)

इस तरह के सवालों में लोग कहीं रुकेंगे तो कहीं अटकेंगे मगर सही एवं सटीक जानकारी सरकार के पास पहुंचेगी तो सरकार को भावी योजनाएं बनाते समय बहुत कुछ सहूलियत मिलने वाली है। इसमें कोई दोराय नहीं कि यह देश के विकास में कारगर सिद्ध होने वाला एक कदम भी बन सकता है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *