नए साल में बदल जाएगा सचिवालय के स्वागत कक्ष का स्वरूप, ये मिलेंगी ​सुविधाएं

नए साल में बदल जाएगा सचिवालय के स्वागत कक्ष का स्वरूप, ये मिलेंगी ​सुविधाएं

जयपुर. सीएम से मिलना हो या किसी मंत्री से ​मिलकर कोई काम करवाना हो, तो इसके लिए ​अधिकांशत: आम जनता को सचिवालय जाना पड़ता है। यहां दिनभर मंत्रियों से मिलने वाले लोगों का तांता लगा ही रहता है। और यह एक दिन की बात नहीं है, रोज का काम है। लोग इसलिए यहां पहुंचते हैं​ कि वह अपनी समस्याओं को सरकार के सामने रखकर उसका निवारण करवा सकें। लेकिन इन जब आमजन यहां पहुंचते हैं तो यहां उनके बैठने के लिए समुचित व्यवस्था का अभाव देखने को मिलता है। जिसके चते लोगों को खासी परेशानी उठानी पड़ती है। इन्हीं परेशानियों को कम करने के लिए सरकार ने अब इसे मॉडर्न बनाने का​ निर्णय लिया है। जिससे यहां आने वाले लोगों को सुविधाओं की कमी के चलते असुविधा न हो।

मॉडर्न होगा स्वागत कक्ष :

सीएम अशोक गहलोत ने सचिवालय के स्वागत कक्ष को मॉडर्न बनाने के लिए बजट की घोषणा पहले ही कर दी थी। इस कार्य में करीब 2 करोड़ 26 लाख रुपए का खर्च आएगा। वहीं इसे तैयार करने में करीब 15 महीने का वक्त लगेगा। इस कार्य के लिए सचिवालय के कार्मिक विभाग और सार्वजनिक निर्माण विभाग ने पूरी तैयारियां कर ली हैं। जिसके लिए नक्शा तैयार कर पीडब्ल्यूडी की ओर से टेंडर भी जारी करवा लिया गया है। जिससे जल्द से जल्द काम शुरू किया जा सके।

ये होगा फायदा :

सचिवालय के स्वागत कक्ष में अभी सिर्फ 25 से 30 लोगों के बैठने की ही व्यवस्था है। इससे यहां आने वाले लोगों को या तो खड़ा रहना पड़ता है या फर्श पर बैठना पड़ता है। जिससे लोग काफी परेशान होते हैं। इसे देखते हुए नए कक्ष में करीब 125 से 140 लोगों के बैठने की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए 3 हजार स्क्वायर फीट में स्वागत कक्ष बनाया जाएगा। इन सभी व्यवस्थाओं को देखते हुए सभी ऑफिसों को फर्स्ट फ्लोर पर शिफ्ट किया जाएगा। वहीं यहां पर्ची काटने के लिए 8 से बढ़ाकर 16 काउंटर बनाए जाएंगे। छोटे बच्चों के साथ आने वाली महिलाओं की सुविधा को ध्यान में रखते हुए उन्हें स्वागत कक्ष में बेबी फीडिंग की सुविधा भी मिलेगी।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *