पृथ्वी शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी में रचा इतिहास, इस खिलाड़ी का तोड़ा रिकॉर्ड

पृथ्वी शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी में रचा इतिहास, इस खिलाड़ी का तोड़ा रिकॉर्ड

Vijay Hazare Trophy 2021. विजय हजारे ट्रॉफी में मुंबई के कप्तान पृथ्वी शॉ ने कमाल कर दिया। उन्होंने विजय हजारे ट्रॉफी में 754 रन बनाकर एक इतिहास रच दिया है। बता दें कि शॉ ने कर्नाटक के खिलाफ विस्फोटक बल्लेबाजी करते हुए सेमीफाइनल मैच में 122 गेंदों में 165 रन बना ड़ाले। अपनी इस पारी में उन्होंने 7 छक्के और 17 चौके भी जड़े। इतना ही नहीं ट्रॉफी के इस सीजन में शॉ बतौर कप्तान अब तक 4 शतक भी लगा चुके हैं।

मयंक अग्रवाल को छोड़ा पीछे

इससे पहले विजय हजारे ट्रॉफी में 8 मैचों में कुल 723 रन बनाने का रिकॉर्ड
भारतीय खिलाड़ी मयंक अग्रवाल के नाम था। शॉ ने 7 मैचों में ही 754 रन बनाकर मयंक का ये रिकॉर्ड तोड़ते हुए उन्हें पीछे छोड़ दिया है। बता दें कि मयंक ने ये रन साल 2018 में बनाए थे।

इतिहास बनाने में माहिर शॉ

पृथ्वी शॉ को इतिहास बनाने में माहिर कहा जा सकता है। चूंकि शॉ ने पुडुचेरी के खिलाफ ग्रुप चरण के मैच में भी नाबाद 227 रन बनाए थे। ये अपने आप में टूर्नामेंट का अब तक का सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर है। इतना ही नहीं शॉ क्वार्टर फाइनल में सौराष्ट्र के खिलाफ नाबाद 185 रनों की पारी खेल चुके हैं। साथ ही लिस्ट ए मैच में सर्वोच्च स्कोर बनाने का रिकॉर्ड भी शॉ के नाम ही है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *