मध्य प्रदेश: देश में कोरोना के बीच ये दो ‘थप्पड़मार महिला’ अफसर बनी हुई हैं चर्चा का विषय, जानें क्यों?

मध्य प्रदेश: देश में कोरोना के बीच ये दो ‘थप्पड़मार महिला’ अफसर बनी हुई हैं चर्चा का विषय, जानें क्यों?

मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री बनने के 24 घंटे के भीतर ही एक ऐसा फैसला लिया है जो मंगलवार रात से ही कोरोना के बीच सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। आपको बता दें कि शिवराज सरकार ने मध्यप्रदेश के राजगढ़ में तैनात थप्पड़मार कलक्टर और एक एसडीएम को हटाने के निर्देश जैसे ही जारी किए तो उनका यह आदेश वायरल हो गया।

ये था पूरा मामला :

इसी साल जनवरी माह में सीएए को लेकर देशभर में माहौल खराब था। ऐसे में मध्यप्रदेश के राजगढ़ में धारा 144 लगी हुई ​थी। इसके बावजूद स्थानीय बीजेपी कार्यकर्ता ब्यावरा में सीएए के समर्थन में रैली निकाल रहे थे। इन्हीं कार्यकर्ताओं के साथ हुई झड़प में कलक्टर ने एक बीजेपी नेता के थप्पड़ मार दिया था। साथ ही उनके साथ बदसलूकी होने की भी बात सामने आई थी। इस घटना का विडियो उस दौरान जमकर वायरल हुआ था। और यह बात उन दिनों चर्चा का विषय बन गई थी।

www.ausamachar.com – कलक्टर निधि निवेदिता थप्पड़ मारते हुए

जब इस बात की खबर शिवराज सिंह को लगी तो उन्होंने खुद इसका विरोध किया था। इस मामले में कोर्ट के माध्यम से दोनों अधिकारियों के खिलाफ मामले भी दर्ज कराए गए थे। जिन पर अब कार्रवाई संभव है।

कौन हैं निधि निवेदिता :

मूलत: झारखंड के सिंदरी की रहने वाली निधि 2012 बैच की आईएएस अधिकारी ​हैं। इन्हें पहली ही पोस्टिंग असिस्टेंट कलक्टर के तौर पर झाबुआ में मिली थी। इसके बाद वह इंदौर की एडिशनल कलक्टर भी रहीं। यह उस समय भी खूब चर्चा में रही थीं जब सिंगरौली जिले में एक पंचायत सचिव को शौचालय बनवाने में घपला करने पर उठक-बैठक लगवाई थी।

www.ausamachar.com – SDM प्रिया वर्मा थप्पड़ मारते हुए

कौन हैं प्रिया वर्मा :

मूलत: इंदौर के मांगलिया गांव की रहने वाली प्रिया महज 21 साल की उम्र में ही डिप्टी कलक्टर बन गई थी। 2014 में ही प्रिया ने मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्षा पास की थी और पहली ही नियुक्ति जेलर के तौर पर मिली। इसके तीन साल बाद ही प्रिया की मेहनत और लगन के बलबूते साल 2017 में प्रदेश में चौथी रैंक मिली और डिप्टी कलक्टर बन गई। हालांकि प्रिया का सपना आईएएस बनने का है। और इसके लिए वह तैयारी भी कर रही हैं। प्रिया ने अतिक्रमण और पॉलीथीन बैन को लेकर भी अपने क्षेत्र में ​अभियान चलाया था। जिसको लेकर वह काफी दिन तक चर्चा में रही थी।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *