मध्यप्रदेश में अब लोगों की अंगुलियां होंगी सेनेटाइज, जानें इसके पीछे का कारण

मध्यप्रदेश में अब लोगों की अंगुलियां होंगी सेनेटाइज, जानें इसके पीछे का कारण

मध्यप्रदेश में लोगों की अंगुली को सेनेटाइज करने का मामला सामने आया है। दरअसल यहां होने वाले उपचुनावों By Election Madhy Pradesh को लेकर यह फैसला लिया गया है। जिसमें वोट ड़ालने से पहले व्यक्ति की अंगुली को सेनेटाइज किया जाएगा और जब तक वह वोट नहीं ड़ाल देता उस अंगुली को शरीर के दूसरे हिस्से से टच नहीं करेगा। ​इस तरह की सावधानियों का ख्याल रखते हुए चुनाव आयोग ने मध्यप्रदेश में उपचुनाव कराने की बात कही है।

बता दें कि मध्यप्रदेश के ग्वालियर में तीन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होना है। कोरोना के इस दौर चुनाव कराना चुनाव आयोग के समक्ष किसी चुनौती से कम नहीं है। अब इस संबंध में निर्वाचन आयोग ने ग्वालियर जिले में बनाए जाने वाले पोलिंग बूथों की जांच शुरू कर दी है। इसके अलावा इन चुनावों में निर्वाचन आयोग सहायक पोलिंग बूथों के विकल्प पर विचार कर रहा है। ताकि एक पोलिंग बूथ पर अधिक संख्या में लोग इकट्ठा न हो सकें।

इन विधानसभा सीटों पर होना है चुनाव :

ग्वालियर की डबरा, पूर्व और ग्वालियर विधानसभा की सीटों पर उपचुनाव होना है। इसके लिए ग्वालियर विधानसभा में 314, पूर्व विधानसभा में 334 और डबरा विधानसभा में 255 पोलिंग बूथ बनाए जाने हैं। फिलहाल चुनावों में अधिकारियों की नियुक्ति के साथ ही वोटर लिस्ट के पुनरीक्षण की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है। जल्द ही चुनाव आयोग मतदान की तिथि की घोषणा कर सकता है।

आयोग के खास निर्देश :

कलक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह के अनुसार उपचुनाव की तैयारियों को लेकर मतदान केंद्रों की जांच करवाई जा रही है। आयोग की ओर से मिले निर्देशों के अनुसार मतदान केंद्रों पर सेनेटाइज, मास्क और उचित दूरी की पालना करना अनिवार्य होगा। इसमें वोटर के हाथ एवं अंगुली को वोट ड़ालने से पहले से​नेटाइज किया जाएगा उसके बाद ही वह ईवीएम का बटन दबा पाएगा।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *