पत्रकार संगठन पीपीआई ने की सरकार से राहत पैकेज की मांग, प्रदेश के जरूरतमंद पत्रकार फोटोग्राफर्स को मिले लाभ

पत्रकार संगठन पीपीआई ने की सरकार से राहत पैकेज की मांग, प्रदेश के जरूरतमंद पत्रकार फोटोग्राफर्स को मिले लाभ

राजस्थान. कोरोना महामारी की जंग में राज्य व केंद्र सरकारों के साथ डॉक्टर्स, पुलिस, समाजसेवी संस्था आदि के साथ पत्रकार भी अपनी महती भूमिका 24 घंटे निभा रहे हैं। राष्ट्रीय पत्रकार संगठन ‘पीरियोडिकल प्रेस ऑफ इंडिया’ के राजस्थान प्रदेश अध्यक्ष सन्नी आत्रेय ने सभी को इस जंग में अपनी अपनी भूमिका निभाने के लिए साधुवाद दिया व 21 दिन के लॉक डाउन के बाद जल्द कोरोना पर विजय पाने की आशा जताई। साथ ही ऐसी विपरीत परिस्थिति में छोटे, मझोले, वेब पोर्टल, यूट्यूब व स्वतंत्र पत्रकारों एवं फोटोग्राफरों पर भी आर्थिक संकट का खतरा मंडराने की गहरी चिंता जताई।

इसके मद्देनजर पीपीआई की ओर से प्रदेश अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री राजस्थान अशोक गहलोत, केबिनेट मंत्री रघु शर्मा व जनसम्पर्क आयुक्त के समक्ष ऐसे जरूरतमंद पत्रकारों के लिये आर्थिक राहत पैकेज की मांग रखी है।
सन्नी आत्रेय ने कहा कि आज राजस्थान के इन पत्रकारों व फोटोग्राफरों पर रोजी रोटी का संकट बढ़ता जा रहा है, उन्हें अपने परिवारों का भरण पोषण करना मुश्किल हो गया है, सभी गतिविधियां बंद हैं।

ऐसे में संवेदनशील मुख्यमंत्री से उम्मीद जताई जाती है कि वह तुरंत ऐसे पत्रकारों व फोटोग्राफरों की जायज मांग पर शीघ्र विचार कर कम से कम 3 महीने का राहत पैकेज देने की घोषणा करें।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *