झालावाड़: पहल अच्छी है मगर लापरवाही उतनी ही खतरनाक..!

झालावाड़: पहल अच्छी है मगर लापरवाही उतनी ही खतरनाक..!

हरिमोहन चोड़ावत/झालावाड़. कोरोना महामारी की आपदा के दौरान प्रत्येक नागरिक परेशान है, लेकिन सबसे ज्यादा परेशानी श्रमिक तबके को झेलनी पड़ रही है। ऐसे में झालावाड की स्वयंसेवी संस्था मानव सेवा समिति द्वारा झालावाड़ शहर में नि:शुल्क भोजन पैकेट वितरण का कार्य शुरू किया गया था। लेकिन परिस्थितियों को देखते हुए बुधवार से समिति द्वारा गरीब एवं निर्धन परिवारों को राशन किट का वितरण शुरू किया है। जिसमें प्रत्येक राशन किट में 10 किलो आटा, 1 किलो दाल, 1 किलो तेल, नमक, हल्दी, मिर्च, साबुन, चाय पत्ती जैसी रोजमर्रा की आवश्यक चीजें रखी गई हैं।

समिति अध्यक्ष शैलेंद्र यादव ने बताया कि भोजन पैकेट वितरण से समस्या का समाधान नहीं होता दिख रहा था, जिसके चलते राशन किट का वितरण शुरू किया गया है। जिसमें एक परिवार को दस-दस दिन की राशन सामग्री दी जा रही है। शुरुआती तौर पर आज शहर के एक विशेष वार्ड में पुलिस की मौजूदगी में जरूरतमंद लोगों को राशन किट का वितरण किया गया।

www.ausmachar.com

लेकिन ये स्थिति ज्यादा खतरनाक :

सेवा के इस कार्य के दौरान धारा 144 के नियमों की पूरी तरह से धज्जियां उड़ती नजर आईं तो वहीं इससे भी ज्यादा खतरनाक लोग सोशल डिस्टेंसिंग का मखौल उडाते दिखे। यहां एक साथ राशन किट लेने वालों की भीड़ उमड़ पड़ी। जिनके मुंह पर न तो कपड़ा था और न ही कोई मास्क पहने हुए था। साथ ही एक दूसरे के साथ सटकर खड़े दिखाई दिए। और ये सब घंटों तक पुलिस की मौजूदगी में होता रहा।

आपको बता दें कि एक दिन पहले ही प्रधानमंत्री मोदी ने देश की जनता से हाथ जोड़कर यह निवेदन किया था कि सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह से ध्यान रखा जाए।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *