भीड़ में गहलोत की नजर रोती हुई एक बुजुर्ग महिला पर पड़ी, उसके बाद जो हुआ..पढ़ें ये खबर

भीड़ में गहलोत की नजर रोती हुई एक बुजुर्ग महिला पर पड़ी, उसके बाद जो हुआ..पढ़ें ये खबर

— कार्यक्रम के दौरान गहलोत ने जो किया, उसे देख आप भी कह उठेंगे वाह!
जयपुर. हाउसिंग बोर्ड की ओर से शनिवार को आयोजित स्वर्ण जयंती समारोह एवं मूर्ति अनावरण कार्यक्रम में पहुंचे सीएम अशोक गहलोत का एक अलग ही चेहरा देखने को मिला। जिसकी तरफ शायद ही किसी की नजर गई हो। दरअसल हुआ यूं कि जैसे ही सीएम ने अपना उद्बोधन खत्म किया उसके कुछ देर बाद ही वह मंचासीन लोगों से मिलते हुए जाने की ओर बढ़े। तभी मंच से दूर एक बुजुर्ग महिला भीड़ से होते हुए सीएम की ओर भागती दिखी, जिसे मौजूद महिला पुलिसकर्मियों ने पहले ही रोक लिया और सीएम के पास जाने से मना कर दिया। ऐसे में वह महिला हाथ जोड़ते हुए उन सुरक्षाकर्मियों से बस यही मिन्नतें करती रही कि एक बार ‘साहब से मिलवा दो, प्लीज…!’

यहां देखें पूरा वीडियो : https://www.facebook.com/ausamachar/videos/645009889595711/

मंच से उतरते वक्त इस घटनाक्रम को शायद सीएम ने भांप लिया और वह सभी से मिलते मिलाते जैसे ही जाने लगे तो उन्होंने एक महिला पुलिसकर्मी के कान में कुछ फुसफुसाया। उसके बाद सीएम कुछ देर के लिए वहीं ठहर गए, किसी को पता नहीं लगा जाने क्या बात हो गई। जैसे ही महिला पुलिसकर्मी उस बुजुर्ग महिला को हाथ पकड़कर सीएम के पास लेकर आई तो बुजुर्ग महिला के आंखों में आंसू आ गए और सीएम का हाथ पकड़ते हुए बोली कि ‘साहब मेरी पेंशन करवा दो।’ उसने सीएम को अपने नाम और पते के साथ एक पर्ची दी, जिसे गहलोत ने पड़कर कहा कि इस पर अपना मोबाइल नंबर भी लिखो। सीएम ने उसी वक्त स्थानीय कांग्रेसी नेता पुष्पेंद्र भारद्वाज को महिला की पर्ची सौंपते हुए उनका काम कराने को कहा।

सीएम ने बुजुर्ग महिला को उनका काम हो जाने का भरोसा दिलाया और वहां से निकल गए। भीड़ में भी इस प्रकार के लोगों पर नजर रखना एक मंजे और सुलझे हुए राजनेता की पहचान होती है जो आज के समय में विरले ही लोगों में देखने को मिलती है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *