हमें लालटेन दे दो सरकार, बल्ब जलाने के पैसे नहीं हैं!

हमें लालटेन दे दो सरकार, बल्ब जलाने के पैसे नहीं हैं!

फ्यूल सरचार्ज: दिसंबर से देना होगा 33 पैसे प्रति यूनिट अतिरिक्त चार्ज

Rajasthan. आमजन पर महंगाई की मार आए दिन बढ़ती जा रही है। पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के बाद अब लोग बिजली की मार से परेशान हैं। बता दें कि हाल ही में प्रदेश सरकार ने बिजली उपभोक्ताओं से 33 पैसे प्रति यूनिट के हिसाब से फ्यूल सरचार्ज Fuel Surcharge वसूलने का फैसला किया है। ऐसे में बिजली बिलों Light Bill से पहले से ही परेशान लोगों को अपनी जेब और ढ़ीली करनी पड़ेगी।

बिल की कैल्युलेशन समझ नहीं पाते

बोर्ड की ओर से जारी प्रिंटेड़ बिल की बात करें तो अधिकांश लोगों को उसकी कैल्युलेशन समझ में नहीं आती। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि रोजी रोटी के चक्कर में कई बार उनका ध्यान इस ओर नहीं जा पाता। बिल में हरेक महीने कुछ न कुछ बदलाव होता ही रहता है। भले महीने की यूनिट बराबर हो, लेकिन बिल कभी बराबर नहीं आता।

बिजली घर के चक्कर काटते रहो!

उपभोक्ताओं का आरोप है बिल में कई बार अनायास ही पैसे जोड़ दिए जाते हैं। घर में 40 से 50 यूनिट उपभोग के बावजूद बिल हजारों में भेज दिए जाते हैं। जिसे कम करवाने के लिए बिजली घर के चक्कर काटने पड़ते हैं। शनिवार और रविवार को करेक्शन करते नहीं हैं। इसलिए काम से छुट्टी लेकर विभाग के कर्मचारियों के चक्कर लगाने पड़ते हैं।

एक बिल एक नजर में..

कुल यूनिट उपभोग — 46
कुल उपभोग राशि — 719

electricity bill : au samachar

अब तो घर में ​अंधेरा अच्छा लगने लगा है। चूंकि बल्ब जलाने पर डर लगा रहता है, कहीं इस महीने बिल न फट जाए। ऐसे में सरकार को चाहिए कि हर घर में लालटेन थमा दे। एलईडी का जुमला भी किसी काम का नहीं है। जितना बिल बल्ब जलाने पर आता था, उससे कहीं ज्यादा बिल एलईडी से आ रहा है।
— सुनील कुमार, उपभोक्ता

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *