झालावाड़ : आपदा प्रबंधक ने स्कूली बच्चों को​ दिया बाढ़ में बचने का लाइव डेमो, सेटेलाइट के बारे में भी बताया

झालावाड़ : आपदा प्रबंधक ने स्कूली बच्चों को​ दिया बाढ़ में बचने का लाइव डेमो, सेटेलाइट के बारे में भी बताया

झालावाड़/हरिमोहन चोडॉवत. झालरापाटन स्थित गोमती सागर तालाब पर सोमवार को एनडीआरएफ सिविल डिफेंस, स्थानीय गोताखोर, होमगार्ड एवं जिला प्रशासन की ओर से बाढ़ के दौरान किए जाने वाले बचाव कार्यों का लाइव डेमो दिया गया। इसके माध्यम से लोगों को बाढ़ जैसे मुश्किल हालात में किस तरह से सावधानी बरतनी चाहिए, उसके बारे में बताया गया। इसके अलावा और किस-किस तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है, साथ ही यात्रा के दौरान नदी में नाव पलट जाने से उन्हें किस तरह बचाया जा सकता है। इस परिस्थिति में किस तरह से मदद दी जाती है इस प्रकार की सभी जानकारियों के बारे में एनडीआएएफ ndrf ने बताया।

इस दौरान बाढ़ आपदा प्रबंधक ने बताया कि किस तरह घरेलू उपकरण भी लोगों को मुसीबत से बचा सकते हैं उनका भी डेमो दिखाया गया। इस दौरान झालावाड़ झालरापाटन के सभी स्कूली बच्चे गोमती सागर तालाब पहुंचे सभी ने लाइव डेमो देखा और बाढ़ या मुश्किल में आने वाली परेशानियों से किस तरह से अपना बचाव या परिवार का बचाव किया जा सके, इसके बारे में लाइव डेमो के माध्यम से जानकारी हासिल की।

इस अवसर पर एनडीआरएफ से बुधाराम देवासी एवं टीम, झालावाड़ जिला पुलिस अधीक्षक राजेश यादव, एसडीएम झालावाड़ जिला प्रशासन और नगर पालिका प्रशासन के अधिकारी व स्कूली बच्चे मौजूद रहे। इस दौरान तालाब किनारे बड़ी संख्या में लोग नजर आए और देखकर बाढ़ आपदा राहत की बारीकियों को नजदीक से समझा। कार्यक्रम में खास बात यह भी रही कि पहली बार सेटेलाइट माध्यम लाइव डेमो में प्रयोग किया जहां नेटवर्क नहीं आता हो वहां यह सेटेलाइट किस तरह मददगार साबित होगा यह बताया गया।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *