दिल्ली की सड़कों को लेकर केजरीवाल का बड़ा फैसला, यूरोपियन शहरों की तरह मिलेंगी ये सुविधाएं

दिल्ली की सड़कों को लेकर केजरीवाल का बड़ा फैसला, यूरोपियन शहरों की तरह मिलेंगी ये सुविधाएं

दिल्ली सरकार ने अब राजधानी की सड़कों को यूरोपीय शहरों european cities की तर्ज पर विकसित करने का बीड़ा उठाया है। जिसके तहत शहर की करीब 540 किलोमीटर लंबी सड़कों को यूरोपियन शहरों की तर्ज पर खूबसूरत बनाया जाएगा। इसके लिए केजरीवाल सरकार ने एक कंसल्टेंट कंपनी को नियुक्त भी कर दिया है। बता दें कि कुछ दिन पहले ही सीएम केजरीवाल ने पीडब्ल्यूडी (PWD) को इसके निर्देश दिए थे। ऐसे में कंसल्टेंट को जल्द से जल्द इसका प्लान तैयार कर सरकार को सौंपने के निर्देश दे दिए गए हैं।

दिल्ली सरकार चाहती है कि ये काम जल्द शुरू हो इसके लिए कंसल्टेंट को फरवरी 2021 तक डीपीआर बना कर देने का निर्देश दिया है, ताकि जून 2021 तक काम शुरू किया जा सके। साथ ही सरकार चाहती ​है कि ये कार्य साल 2023 की शुरुआत तक पूरा कर लिया जाए। कोरोना के चलते इसकी प्रक्रिया में थोड़ी रुकावट आई थी मगर अब सरकार जल्द ही इसके लिए टेंडर प्रक्रिया भी जारी करेगी।

ये मिलेंगी सुविधाएं :

ग्रीन बेल्ट
साइकिल लेन
पैदल पाथ लेन
पब्लिक ओपन स्पेश
रिक्शा के लिए पार्किंग
पार्किंग के लिए स्थान चिंहित
सड़क की दीवारों पर डिजाइंस का डिस्प्ले होगा
सड़क के बगल में पार्क होगा तो उसे दीवार से ढका नहीं जाएगा, ताकि सड़क से पार्क की खूबसूरती दिखे।

इन सड़कों का होगा चयन :

पीडब्ल्यूडी मंत्री सतेंद्र जैन की मानें तो इसके लिए सबसे पहले उन सड़कों का चयन किया जाएगा जिनकी चौड़ाई 100 फीट है। मंत्री ने ये फैसला विभाग के अधिकारियों की समीक्षा बैठक के बाद लिया। इसके अलावा पायलट प्रोजेक्ट के तहत दिल्ली की 7 सड़कों को री-डिजाइन करने की मंजूरी प्रदान की गई है। इसमें फुटपाथ, नॉन मोटर व्हीकल के लिए जगह बनाई जाएगी। फुटपाथ की चौड़ाई को बढ़ाकर अधिकतम 10 फीट किया जाएगा। इन फुटपाथ को दिव्यांगों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए तैयार किया जाएगा ताकि सड़क एक जैसी दिखें।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *