चीन में फिर गहराया एक और बीमारी का संकट, 18 हजार मुर्गियों को मारा

चीन में फिर गहराया एक और बीमारी का संकट, 18 हजार मुर्गियों को मारा

चीन के अलावा पूरी दुनिया इस समय ‘कोरोना’ वायरस के डर से सहमी हुई है। वहीं चीन के हुनान प्रांत से एक और खतरनाक वायरस फैलने की खबर सामने आई है। एक चीनी अखबार की मानें तो हुनान प्रांत में ‘एच5एन1’ वायरस फैलने की पुष्टि की गई है। इसे ‘बर्ड फ्लू’ यानि ‘एवियन इन्फ्लुएंजा’ के नाम से भी जानते हैं। इसके तहत अभी तक करीब 18 हजार मुर्गियों को मौत के घाट उतारा जा चुका है। आपको बता दें कि इससे पहले चीन में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस से अब तक 300 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं 15 हजार से ज्यादा लोग इससे प्रभावित हो चुके हैं।

चीनी सरकार में कृषि एवं ग्रामीण मामलों के मंत्री ने इस बारे में स्थानीय अखबार को दी जानकारी में बताया कि शुआनक्विंग जिले के एक फार्म से इस संबंध में रिपोर्ट मिली थी। जहां करीब 8 हजार मुर्गियां हैं जिनमें आधे से ज्यादा मुर्गियों की मौत संक्रमण के कारण हो चुकी है। ऐसे में एहतियातन के तौर पर स्थानीय ​अधिकारियों ने कार्रवाई करते हुए करीब 18 हजार मुर्गियों को मार दिया गया है। हालांकि अभी तक किसी भी व्यक्ति के इसके संक्रमण की चपेट में आने की कोई खबर नहीं है।

क्या है एच5 एच1 वायरस :

बर्ड फ्लू चिड़ियों में होने वाली एक घातक बीमारी है जिसके वायरस मुर्गियों से होते हुए मनुष्यों तक पहुंच सकते हैं। ऐसे में यह बीमारी कब महामारी का रूप धारण कर ले कोई नहीं जान सकता। इसी वायरस को ‘एच5एन1’ नाम दिया गया है। यह वायरस सीधे फेफड़ों पर असर करता है जिससे सांस लेने में तकलीफ होने लगती है। हालांकि एक रिपोर्ट की मानें तो 2003 के बाद एच5एन1 का वायरस मनुष्यों तक नहीं पहुंच पाया है। वहीं 2016 में भारत भी अपने आपको ‘एवियन इन्फ्लुएंजा’ से पूरी तरह मुक्त घोषित कर चुका है

Pay
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Support Akhiri Ummeed

Help us keep the website running. Help us keep the narrative.

Pay anything from ₹ 10 to ₹ 10,000