परीक्षाओं की तैयारियों में जुटा बोर्ड, इस बार छात्र नहीं कर पाएंगे नकल

परीक्षाओं की तैयारियों में जुटा बोर्ड, इस बार छात्र नहीं कर पाएंगे नकल

नए साल में बच्चों की जल्द ही फाइनल परीक्षाएं शुरू होने वाली हैं। राजस्थान बोर्ड की ओर से भी 10वीं और 12वीं की यह परीक्षाएं मार्च 2020 में शुरू होने वाली हैं। जिसकी तैयारियों में बच्चे अभी से लग गए हैं। राज्यभर से परीक्षाओं में शामिल होने वाले बच्चों के ​लिए बोर्ड की ओर से भी तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। राजस्थान में ही इन परीक्षाओं के लिए कुल 5 हजार 674 केंद्र बनाए गए हैं। जिनमें परीक्षा देने के लिए 20 लाख 56 हजार 552 विद्यार्थियों का पंजीकरण हुआ है।

ये हैं संवेदनशील केंद्र :

परीक्षा के आयोजन को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक का भी आयोजन किया गया। जहां केंद्रों में होने वाली गड़​बड़ियों को लेकर चर्चा की गई। इस दौरान राज्यभर में 92 परीक्षा केंद्रों को संवेदनशील की श्रेणी में रखा गया। इन 92 संवेदनशील परीक्षा केंद्रों में 30 को अतिसंवेदनशील माना गया है।

कैसे करते हैं श्रेणियों का विभाजन :

परीक्षा केंद्रों में परीक्षा के समय होने वाली गड़बड़ियों के आधार पर इन्हें अलग श्रेणियों में बांटा जाता है। इसमें केंद्रो पर पहले शामिल हुए विद्यार्थियों की नकल को लेकर की कई गड़बड़ियों के आधार पर संवेदनशील और अतिसंवेदनशील केन्द्र का चयन होता है। इसी आधार पर यहां की व्यवस्थाएं भी की जाती हैं।

परीक्षा में नकल और अन्य गड़बड़ियों पर रोक लगाने के लिए राज्य के सभी चयनित 92 केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगवाने के निर्देश दिए गए हैं। जिससे यहां होने वाले पेपर लीक के केसों को रोका जा सके। विभाग ने प्रशासन को भी इस ओर चौकन्ना रहने के निर्देश दिए हैं। शिक्षा मंत्री डोटासरा ने ऐसे परीक्षा केंद्रों पर प्रश्नपत्रों की सुरक्षा के लिए होमगार्ड्स भी तैनात करने को कहा है जो पुलिस थानों से दूर हैं। राजस्थान बोर्ड की ओर से 10वीं और 12वीं बोर्ड की यह परीक्षाएं मार्च व अप्रैल में आयोजित की जानी हैं।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *